Latest 2021 WordPress SEO Guide In Hindi (Step By Step)

अपने ब्लॉग पर अधिक traffic प्राप्त करने के लिए अपने WordPress SEO में सुधार करना अति महत्वपूर्ण है। अफसोस की बात है कि अधिकांश WordPress SEO guide नए bloggers के समझ में आने के लिए बहुत ज़्यादा पेंचिदा ओर तकनीकी हैं।

यदि आप अपने ब्लॉग के traffic को बढ़ाने के बारे में गंभीर हैं, तो आपको WP SEO best practices पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

इस guide में, मैं आपके WP SEO को बेहतर बनाने और अधिक organic traffic प्राप्त करने में मदद करने के लिए best WP SEO टिप्स साझा करूँगा।

आपने विशेषज्ञों को यह कहते हुए सुना होगा कि WP SEO के अनुकूल है। वास्तव में यही कारण है की बहुत से लोग WP चुनते हैं to Start A Blog.

जबकि WP यह सुनिश्चित करता है कि जो कोड WP आपके ब्लॉग के लिए उत्पन्न करता है वह SEO best practices को follow करता है, लेकिन इतना काफ़ी नहीं है, अगर आपको अपने SEO को सर्वश्रेष्ठ बनाना है तो आपको और भी बहुत कुछ करने की आवश्यकता है।

मेरे पास कई actionable steps हैं जो आपको अपने WP SEO को ठीक से optimise करने के लिए लेने की आवश्यकता है।

इसे आसान बनाने के लिए, मैंने मेरे 2021 WordPress SEO Guide In Hindi को आसानी से नेविगेट करने में आपकी सहायता के लिए content table बनाई है।

Introduction

मैं जनता हूँ कि WP SEO optimisation का विचार शुरुआती लोगों के लिए डराने वाला हो सकता है, खासकर यदि आप एक टेक गीक नहीं हैं।

लेकिन चिंता मत करो – यह जटिल नहीं है। मूल बातें जानने के लिए यहां शुरू करें, और फिर आप उन्हें अपने ब्लॉग पर लागू करना शुरू कर सकते हैं।

SEO क्या है?

WordPress SEO Guide In Hindi

यह ब्लॉग के मालिकों द्वारा Search Engine में उच्च रैंकिंग प्राप्त करके अधिक traffic प्राप्त करने के लिए उपयोग की जाने वाली एक रणनीति है। SEO की full form Search engine optimization है।

यह एक ऐसा ब्लॉग बनाने के बारे में है जिसमें optimised code और proper formatting है जो आपके ब्लॉग को खोजने की process में Search Engine के लिए Helpful साबित हो।

जब लोग आपके द्वारा लिखे गए विषयों के लिए वेब पर खोज करते हैं, तो Search Results में आपके Search Engine Optimized Content अधिक दिखाई देंगे, और आपको अधिक लोग आपके ब्लॉग को visit करने को मिलेंगे।

SEO महत्वपूर्ण क्यों है?

Search Engine अक्सर अधिकांश ब्लॉगों के लिए traffic का सबसे बड़ा स्रोत होते हैं।

Google और अन्य Search Engine, Search Results में उचित रूप से पृष्ठों को समझने और रैंक करने के लिए advanced algorithms का उपयोग करते हैं। हालाँकि, वे algorithms अभी भी perfect नहीं हैं – उन्हें अभी भी यह समझने में आपकी सहायता की आवश्यकता है कि आपका content किस बारे में है।

यदि आपने आपके Content को Optimised नहीं किया है, तो Search Engine को यह नहीं पता होगा कि इसे कैसे रैंक किया जाए। जब लोग आपके द्वारा लिखे गए विषयों की खोज करते हैं, तो आपका ब्लॉग Search Results में दिखाई नहीं देता है, और आप उस traffic को अपने ब्लॉग तक नहीं ला पाओगे जोकि आपके ब्लॉग पे लिखे हुए Articles ही खोज रहा था। इसका सीधा मतलब हुआ आपकी Income में घाटा

सभी व्यवसाय मालिकों के लिए अपने ब्लॉग को Search Engine Optimised बनाना बहुत महत्वपूर्ण है, ताकि वे अपने Organic Search Traffic को जितना हो सके उतना बढ़ा सकें।

Basics of WP SEO

आपको SEO की Techanicalities में अपना समय ख़राब करने की ज़रूरत नहीं है, आप बस अपने ब्लॉग को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए कुछ बुनियादी SEO टिप्स सीखने से अपने ब्लॉग के traffic को boost कर सकते हैं।

नीचे दी गई तकनीकों का उपयोग करने के लिए आपको एक तकनीकी Genius होने की ज़रूरत नहीं है। यदि आप बिलकुल New Blogger भी हैं, तो भी आप ये आसानी से कर सकते है!

आइए अपने ब्लॉग को Optimised करना शुरू करें।

अपने ब्लॉग की visibility सेटिंग जांचें

WordPress अपने ब्लॉग को सर्च इंजन से छिपाने के लिए बिल्ट-इन ऑप्शन के साथ आता है। इस विकल्प का उद्देश्य आपको सार्वजनिक होने के लिए तैयार होने से पहले अपने ब्लॉग पर काम करने का समय देना है।

हालांकि, कभी-कभी यह विकल्प गलती से mark किया जा सकता है या फिर जब आप अपने ब्लॉग को customise कर रहे थे तो आपने इसे जान-बुझ कर मार्क किया था लेकिन आप इसे unmark करना भूल गये और यह ग़लती आपके ब्लॉग को Search Engine के लिए अनुपलब्ध बनती है।

यदि आपका ब्लॉग Search Results में दिखाई नहीं दे रहा है, तो आपको सबसे पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि यह विकल्प unmarked है।

बस अपने WP ब्लॉग के Admin Area में लॉग इन करें और Settings » Reading पेज पर जाएं।

Search Engine Visibility WordPress SEO Guide In Hindi

आपको Search Engine Visibility सेक्शन पर स्क्रॉल करना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि “Discourage search engines from indexing this site” वाला बॉक्स Unmark हो। जैसा की ऊपर image में लाल रंग के बॉक्स में दिखाया गया है।

अपने changes को save करने के लिए ‘Save Changes’ बटन पर क्लिक करना न भूलें।

SEO friendly URL संरचना का उपयोग करना

SEO Friendly URL में ऐसे शब्द होते हैं जो पेज के Content को स्पष्ट रूप से समझाते हैं, और वे मानव और Search Engine दोनों द्वारा पढ़ना आसान होते है।

SEO Friendly URL के कुछ उदाहरण हैं:

https://www.bloguruji.com/what-is-blog-in-hindi/

https://www.bloguruji.com/difference-between-a-page-title-and-h1-tag/

ध्यान दें कि ये URL पठनीय हैं और एक यूज़र इनको पढ़के यह अनुमान लगा सकता है कि वे Article में क्या देखेंगे। ये पेज के Content के बारे में साफ़-साफ़ बताता है।

तो एकNon-SEO Friendly URL कैसा दिखता है?

https://www.bloguruji.com/?nknyp=4107

https://www.bloguruji.com/archives/3612

आप देख सकते हैं कि ये URL Content से असंबंधित संख्याओं का उपयोग करते हैं, और एक उपयोगकर्ता URL को देखकर यह अनुमान नहीं लगा सकता है कि वे page पर क्या पाएंगे।

SEO के अनुकूल पर्मलिंक संरचना का उपयोग करके Search Results में बेहतर स्थिति प्राप्त करने की आपकी संभावना में सुधार होता है।

यहां बताया गया है कि आप अपने WP ब्लॉग की पर्मलिंक संरचना Check ओर Update कैसे कर सकते हैं।

आपको Settings »Permalinks पेज पर जाना होगा। “Post Name” विकल्प का चयन करें और फिर अपनी सेटिंग्स को स्टोर करने के लिए ‘Save Changes’ बटन पर क्लिक करें।

WordPress SEO Guide In Hindi permalink structure

नोट: यदि आपका ब्लॉग 6 महीने से अधिक समय से चल रहा है, तो कृपया अपना (permalink structure) क्रमांक संरचना न बदलें, लेकिन अगर आप Numeric ऑप्शन का use कर रहे हो जोकि “Post Name” के ठीक उपर है, तो आप अपना permalink structure बदल सकते हो। यदि आप Day and name या Month and name का उपयोग कर रहे हैं, तो उसका उपयोग जारी रखें, उसे न बदलें।

किसी स्थापित ब्लॉग पर अपनी पर्मलिंक संरचना को बदलने से, आपको अपनी मौजूदा SEO रैंकिंग खोने का जोखिम उठना पड़ सकता है।

यदि आपको अपनी पर्मलिंक संरचना को बदलना ही पड़े, तो एक professional को hire करें, ताकि वे उचित पुनर्निर्देश (redirects) कर सकें। आप अभी भी social share counts को खो ही देंगे, उन्हें बचाने का कोई उपाय नहीं है, अगर आप अपने permalink structure को बदलना चाहते हो। अच्छा रहेगा की आप शुरू से ही अपने लिए एक best permalink structure का चुनाव करें। जोकि “Post Name” वाला permalink structure है।

WWW vs non-WWW

यदि आप अपने ब्लॉग की शुरुआत कर रहे हैं, तो आपको यह चुनने की आवश्यकता है कि आप अपने ब्लॉग के URL में कोनसे version का उपयोग करना चाहते हैं www (http://www.example.com) या non-www (http://example.com)

WordPress SEO Guide In Hindi WWW Vs Non-WWW

आप Settings » General page पर जाकर अपनी प्राथमिकता निर्धारित कर सकते हैं। Add WP एड्रेस और Site एड्रेस दोनों क्षेत्रों में अपना पसंदीदा URL जोड़ें।

WordPress SEO Guide In Hindi WWW Vs Non-WWW

Best WP SEO plugin

WP के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि हर चीज के लिए एक प्लगइन available है, और SEO कोई अपवाद नहीं है। हजारों WP SEO प्लगइन्स हैं जो शुरुआती लोगों के लिए सबसे अच्छा WP SEO प्लगइन चुनना कठिन बनाता है।

व्यक्तिगत SEO कार्यों के लिए अलग प्लगइन्स स्थापित करने के बजाय, मैं आपको सबसे अच्छा WP SEO प्लगइन चुनने में मदद करूँगा जो यह सब करता है, और यह 100% FREE है।

सर्वश्रेष्ठ WP SEO प्लगइन का चुनाव

WordPress SEO Guide In Hindi WP SEO प्लगइन का चुनाव

जब सबसे अच्छा WP SEO प्लगइन चुनने की बात आती है, तो आप अपनी पसंद को तीन सबसे लोकप्रिय समाधानों तक सीमित कर देंगे: Rank Math SEO, Yoast SEO या All in One SEO Pack

ये तीनों प्रभावी समाधान हैं, और Bloguruji के लिए, मैं बारी-बारी तीनो SEO Plugins का उपयोग कर के देख रहा हूँ, ताकि मैं आपको इनके Pros ओर Cons बता सकूँ। वर्तमान में Rank Math SEO का उपयोग कर रहा हूँ, इसलिए इस ट्यूटोरियल में मैं स्क्रीनशॉट और उदाहरणों के लिए Rank Math SEO का उपयोग करूँगा, लेकिन कुछ images को old posts से use करूँगा, so don’t be confused. जैसेकी नीचे वाला image मैं अपने पहले वाले article से ले रहा हूँ। आपको भी अपना समय बचने के लिए इस रणनीति का उपयोग करना चाहिए।

WP में XML sitemap जोड़ें

WordPress SEO Guide In Hindi XML Sitemap

एक XML Sitemap एक विशेष रूप से स्वरूपित फ़ाइल है जो आपके ब्लॉग पर हर एक page को सूचीबद्ध करती है। इससे Search Engine को आपके सभी Content खोजने में आसानी होती है।

XML Sitemap जोड़ने के दौरान आपके ब्लॉग की Search Ranking में Directly कोई वृद्धि नहीं होती है, लेकिन यह Search Engine को आपके Content को जल्दी खोजने और उन्हें रैंकिंग देने में मदद करता है।

यदि आप All In One SEO plugin का उपयोग कर रहे हैं, तो आपके लिए XML Sitemap बनाना काफ़ी आसान easy रहेगा। अपना Sitemap बनाने के लिए, आप मेरे “How to create XML Sitemap with All In One SEO in Hindi” article को पढ़ सकते हैं।

मैं आपको अगले चरण में अपने XML sitemap को Google में सबमिट करने का तरीका दिखाऊँगा।

अपने ब्लॉग को Google Search Console से जोड़ें

Adding-site-to-Google-Search-Console-in-hindi

GSC, Google द्वारा ऑफ़र किए गए टूल का एक सेट है जो की  ब्लॉग के मालिकों को इस बात की जानकारी देने के लिए बनाया गया है कि उनका Content सर्च इंजन के द्वारा कैसे देखा जाता है।

आपके पेज Search Results में कैसे दिखाई देते हैं यह आपको समझाने में मदद करने के लिए रिपोर्ट और डेटा प्रदान करता है, GSC, आपको उन वास्तविक Search KeyWords को भी देखने को मिलता है जिनका उपयोग लोग आपके ब्लॉग को खोजने के लिए कर रहे हैं, प्रत्येक पेज Search Results में कैसे दिखाई देता है, और आपके पृष्ठों को कितनी बार क्लिक किया जाता है।

यह सब जानकारी आपको यह समझने में मदद करती है कि आपके ब्लॉग पर क्या काम कर रहा है और क्या नहीं। फिर आप अपनी Content रणनीति के अनुसार योजना बना सकते हैं।

जब आपके ब्लॉग में कुछ गड़बड़ हो, तो GSC आपको alert भी करता है, जैसे कि जब कोई Search Crawler आपके ब्लॉग को access करने में असमर्थ रहता है।

एक बार जब आप अपने ब्लॉग को GSC में जोड़ लेते हैं, तो बाएं मेनू से Sitemap पर क्लिक करें और फिर Sitemap URL के अंतिम भाग को paste करें।

Adding-sitemap-in-Google-Search-Console-in-Hindi-SEO-Guide-In-Hindi

अपने changes को save करने के लिए Submit बटन पर क्लिक करें।

GSC अब आपके Sitemap की जाँच करेगा और इसका उपयोग आपके ब्लॉग के क्रॉलिंग को बेहतर बनाने के लिए करेगा।

एक बार आपने अपना Sitemap सफलतापूर्वक जोड़ लिया, तो यह Pending दिखाई देगा। आपके ब्लॉग को क्रॉल करने में Google को कुछ समय लगता है। कुछ घंटों के बाद, आप अपने Sitemap के बारे में कुछ आंकड़े देख पाएंगे। यह आपको आपके Sitemap में पाए जाने वाले लिंक की संख्या दिखाएगा, उनमें से कितने Indexed हुए, आदि।

मैं Recommend करता हूँ कि आप अपने खोज कंसोल की जाँच कम से कम मासिक आधार पर regularly करें और अपने ब्लॉग की SEO प्रगति देखें।

Google Search Console में अपनी वर्डप्रेस साइट को जोड़ने के तरीके के बारे में मेरी step by step guide “How To Submit Your Website To Google Search Console In Hindi” देखें।

SEO के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट को Optimise करें

अक्सर शुरुआती लोग यह सोचने की गलती करते हैं कि WP SEO प्लगइन को Install ओर Activate करना ही काफ़ी है। SEO एक continuous process है जिसे आपको अधिकतम परिणाम देखने के लिए बार-बार करते रहना चाहिए।

सभी best quality SEO प्लगइन्स आपको प्रत्येक ब्लॉग पोस्ट और पेज पर एक Title, H1 Description और Focus Keyword जोड़ने की अनुमति देते हैं। यह आपको एक Preview भी दिखाता है कि जब आपके visitor आपके ब्लॉग को Google Search Results में देखेंगे तो उनको ये कैसा दिखाई देगा।

मैं Recommend करता हूँ कि आप अधिकतम क्लिक प्राप्त करने के लिए अपने Title ओर Description को Optimise करें। अपनी ब्लॉग पोस्ट लिखते समय, बस Rank Math SEO में Green Box पर क्लिक करें, यहाँ आपका SEO स्कोर भी लिखा मिलता है। अब यहाँ आप अपनी post का Focus Keyword डाल सकते हैं।

SEO-Guide-In-Hindi

Edit Snippet सेक्शन पर क्लिक करें। अब आपके सामने Preview Snippet Editor खुलेगा, यहाँ पर अपने Title, Permalink, Description को Optimise करें। इस प्रकार आप Rank Math SEO का पूरा लाभ उठा सकते हैं ओर वो भी बिलकुल FREE.

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO 2

Title ओर H1 के बारीक अंतर को जानने के लिए मेरा “Page Title and H1 Tag में अंतर” Article पढ़े।

अपने ब्लॉग के लिए keyword research करें

WordPress SEO Guide In Hindi Keyword Research

Keyword research एक शोध तकनीक है जिसका उपयोग Content निर्माता और SEO विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है। यह आपको उन शब्दों को खोजने में मदद करता है जो उपयोगकर्ता आपके blog में Content, Products, और सेवाओं को खोजने के लिए Search Engine में टाइप करते हैं।

फिर आप अधिक Organic Search Traffic प्राप्त करने के लिए अपने ब्लॉग में उन Keywords का उपयोग कर सकते हैं।

Keyword research Tools (मुफ्त और भुगतान दोनों) दोनो रूप में उपलब्ध हैं, जो आप उपयोग कर सकते हैं। मैं SEMRush या ahref का उपयोग करने की सलाह देता हूँ, यह आपको कीवर्ड खोजने में मदद करते हैं, और यहां तक ​​कि उन कीवर्ड का भी पता लगाने में मदद करते हैं, जहां आपके प्रतियोगी रैंकिंग कर रहे हैं।

WP SEO Best Practices(युक्तियाँ)

यदि आप WP SEO के मूल Rules का पालन करते हैं और सबसे अच्छे WP SEO प्लगइन का उपयोग करते हैं, तो आप पहले से ही अधिकांश ब्लॉगों से आगे हैं।

हालाँकि यदि आप और भी बेहतर परिणाम चाहते हैं, तो आपको नीचे दिए गए WP SEO Best Practices का पालन करने की आवश्यकता है।

ये बहुत अधिक Technical नहीं हैं और अधिकांश के लिए आपको HTML coding की जानकारी होने की भी आवश्यकता नहीं है। लेकिन अगर आप उन्हें फॉलो करेंगे तो आपकी SEO ranking बहुत अच्छी हो जाएगी।

WP में categories और tags का सही उपयोग करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Categories vs tags

WP आपको अपने ब्लॉग पोस्ट को Categories और Tags में सॉर्ट करने की अनुमति देता है। इससे आपके लिए विषयों द्वारा अपने Content का मैनज्मेंट करना आसान हो जाता है, और आपके उपयोगकर्ताओं को वह Content आसानी से मिल सकता है जिसकी वे तलाश कर रहे हैं।

Categories और Tags भी Search Engine को आपके ब्लॉग संरचना और सामग्री को समझने में मदद करते हैं।

अक्सर शुरुआती लोग इस बात पर भ्रमित हो जाते हैं कि Categories और Tags का सबसे अच्छा उपयोग कैसे करें। Categories आपके पोस्ट की broad grouping के लिए होती हैं। 

उदाहरण के लिए, यदि आपका ब्लॉग एक पुस्तक है, तो Categories, Content की एक Table की तरह हैं।

उदाहरण के लिए, एक व्यक्तिगत ब्लॉग पर, आपके पास संगीत, भोजन, यात्रा, आदि Categories हो सकती हैं। Categories का ढाँचा hierarchical होता है, इसलिए आप उनमें Sub-Categories जोड़ सकते हैं।

दूसरी ओर, Tags अधिक विशिष्ट कीवर्ड होते हैं जो किसी व्यक्तिगत पोस्ट के Content का वर्णन करते हैं। उदाहरण के लिए, फ़ूड कैटेगॉरी के तहत दायर एक ब्लॉग पोस्ट में सलाद, नाश्ता, आदि जैसे टैग हो सकते हैं।

Categories और Tags का ठीक से उपयोग करके, आप अपने उपयोगकर्ताओं के लिए अपने ब्लॉग को ब्राउज़ करना आसान बनाते हैं। चूंकि यह उपयोगकर्ताओं के लिए आसान है, इसलिए यह Search Engine के लिए आपका ब्लॉग ब्राउज़ करना भी आसान बनाता है।

Internal Linking को एक आदत बनाएं

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Internal Linking

Search Engine आपके ब्लॉग पर प्रत्येक page को एक अंक (page authority) प्रदान करते हैं। इस स्कोर की रेसिपी को गुप्त रखा जाता है ताकि लोग नतीजे के साथ ग़लत तरीकों से छेड़छाड़ न कर सकें। हालांकि, Authority के सबसे आम संकेत लिंकस होते हैं।

इसीलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने Content को अपने अन्य ब्लॉग पोस्ट और पृष्ठों से लिंक करें।

जब भी संभव हो, आप अपने स्वयं के पोस्टों को इंटरलिंक करना अपनी एक आदत बना लें। एक pre-publish blog post checklist बनाएं, जिसमें से कम से कम 3 अन्य ब्लॉग पोस्टों को अपने नए पोस्ट्स में इंटरलिंक करें।

यह आपके पेजव्यू को बढ़ावा देने में आपकी मदद करेगा, उपयोगकर्ताओं द्वारा आपके ब्लॉग पर खर्च करने के समय को बढ़ाएगा, और अंततः आपके व्यक्तिगत ब्लॉग पोस्ट और पृष्ठों के SEO स्कोर में सुधार करेगा।

WP comments को Optimise करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Optimise comment

Comments आपके ब्लॉग पर उपयोगकर्ता के जुड़ाव का एक मजबूत संकेत हो सकते हैं। Engaged  उपयोगकर्ताओं का अर्थ है आपके ब्लॉग पर अधिक लिंक, अधिक traffic, और बेहतर SEO।

हालांकि, आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आपके Comments वास्तविक हैं और स्पैम नहीं हैं। स्पैमर खराब लिंक के साथ Comments जमा करते हैं जो आपकी Search Ranking को बुरे तरीक़े से प्रभावित (Damage) कर सकते हैं। 

यही कारण है कि मैं सभी को Akismet का उपयोग शुरू करने की सलाह देता हूँ। यह उन दो प्लगइन्स में से एक है जो हर WP ब्लॉग के साथ प्री-इंस्टॉल्ड आते हैं, और यह आपको कमेंट स्पैम से निपटने में मदद करता है।

हालाँकि, किसी पोस्ट पर बहुत सारे Comments आपके ब्लॉग को धीमा बना सकते हैं जो आपकी Search Engine रैंकिंग को भी प्रभावित करते हैं। (ब्लॉग Speed कैसे SEO को प्रभावित करती है, इसके बारे में अधिक जानने के लिए नीचे पढ़ते रहें।)

Comments के द्वारा आपके सर्वर और गति पर डाले गए बोझ को संभालने के लिए, आप Comments को कई पृष्ठों में विभाजित कर सकते हैं।

जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, लिंक Search Engines को यह तय करने में मदद करते हैं कि कौन से page महत्वपूर्ण हैं। जब आप किसी दूसरे ब्लॉग से लिंक करते हैं, तो आप उस लिंक पर अपने ब्लॉग का कुछ SEO स्कोर पास कर रहे होते हैं। इस SEO स्कोर को “link juice” कहा जाता है।

अच्छी Search Ranking के लिए, आपको यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि आप अन्य ब्लॉगों से अधिक लिंक जूस प्राप्त कर रहे हैं तुलनात्मक रूप से, जितना की आप दे रहे हैं।

बाहरी लिंक के लिए “nofollow” को जोड़ना, Search Engine को उन लिंको को follow न करने का निर्देश देता है। यह आपके लिंक जूस को बचाने में मदद करता है।

एक सामान्य बाहरी लिंक HTML में इस तरह दिखता है:

<a href=”http://example.com”>Example Website</a>

Nofollow वाला एक बाहरी लिंक इस तरह दिखता है:

<a href=”http://example.com” rel=”nofollow”>Example Website</a>

डिफ़ॉल्ट रूप से, WP लिंक को nofollow बनाने के विकल्प के साथ नहीं आता है। हालाँकि, आप अभी भी लिंक को मैन्युअल रूप से संशोधित करके आसानी से Nofollow Link बना सकते हैं।

आप Nofollow Link दो प्रकार से बना सकते हैं।

  • Edit As HTML

सबसे पहले आप उस लिंक पर click करें जिसको आप Nofollow बनाना चाहते हैं। अब आपको ३ vertical dots पर क्लिक करना है, जैसा की फ़ोटो में दिखाया गया है। Finally, एक मेनू खोलेगा जहाँ आपको Edit as HTML ’विकल्प पर क्लिक करना होगा।

अब आपको अपने लिंक का HTML कोड दिखाई देगा। लिंक कोड में rel = “nofollow” को जोड़ें। आपको बस rel=”nofollow” टाइप करना है।

यदि आप HTML कोड में अपना लिंक देखते हैं, जैसे की <a href=”https://rankmath.com/” तो आपको इसके बाद एक space जोड़ना है और उसके बाद rel=”nofollow टाइप करना है ओर फिर से एक space जोड़ना है, ओर बस ये लिंक अब nofollow बन चुका है। आपको code के साथ ओर छेड़-छाड नहीं करना है।

  • Edit In Visual Editor

पहले आप उस लिंक पर click करें जिसको आप Nofollow बनाना चाहते हैं। अब आपको एक Blue कलर का लिंक दिखाई देगा ओर उसके right side में एक pencil का icon ओर सबसे लास्ट में एक down arrow दिखाई देगा, जोकि “Link Settings” नाम से labled है।

आपको इस arrow पर क्लिक करना है, फिर आपको button को ON सेट करना है, ये Blue हो जाएगा, ओर आपका लिंक अब Nofollow में convert हो चुका है।

summaries ओर excerpts का उपयोग करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Summaries or Excerpts

WP आपके पोस्ट को कई चीज़ों से लिंक करता है जैसे की होम पेज, कैटेगरी आर्काइव, टैग आर्काइव, डेट आर्काइव, ऑथर पेज आदि।

डिफ़ॉल्ट रूप से, यह इन सभी pages पर Full article content दिखाता है। यह आपके ब्लॉग के SEO को प्रभावित करता है, क्योंकि अगर आप हर जगह जैसे की होम पेज, या RSS फ़ीड में Full Article दिखोगे तो Search Engine इसे डुप्लिकेट Content मान सकते हैं, की आपने यही article home page पर लगा रखा है ओर यही RSS फ़ीड में,, Search Engine इन्हें २ अलग-अलग Articles की तरह देखेगा, ओर जैसे दोनो का Content same है, तो यहाँ Duplicate Content का issue आएगा। हर जगह Full article दिखाने के ओर भी नुक़सान हैं जैसे की ये आपके archive pages को slow बनाते हैं।

हर जगह पूर्ण लेख दिखाने से आपके page दृश्य भी प्रभावित होते हैं। उदाहरण के लिए, जो उपयोगकर्ता आपकी RSS फ़ीड की सदस्यता लेते हैं, वे आपके फ़ीड रीडर में ही पूरा लेख पढ़ सकते हैं, बिना आपके ब्लॉग पर visit किये।

इसे हल करने का सबसे आसान तरीका पूर्ण लेखों के बजाय (summaries or excerpts) सारांश या अंश दिखाएँ।

आप Settings » Reading और सारांश का चयन कर सकते हैं।

WP SEO के लिए Speed And Security

अगर आप ऊपर दिए गए सभी WP SEO tips ओर best practices का भी पालन बड़े अच्छे तरीक़े से करते हैं, लेकिन यदि फिर भी आपका ब्लॉग धीमा है या हैकर द्वारा हैक कर लिया गया है, तो आपकी Search Engine रैंकिंग पर एक बड़ी भारी चोट लगेगी।

स्लो स्पीड या लचर सुरक्षा के कारण आपके ब्लॉग को Search Engine traffic खोने से कैसे रोका जाए।

Speed और performance को optimise करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Optimise Blog's Speed

औसत मानव ध्यान अवधि मात्र 8 seconds है।

इसका मतलब है कि आपके पास अपने Content को पेश करने और उपयोगकर्ताओं को engage करने के लिए केवल कुछ सेकंड हैं।

आप इस कीमती समय को आपके page load होने के कारण बर्बाद नहीं करना चाहते हैं जिससे आपके ब्लॉग के visitors को प्रतीक्षा करनी पड़े। Google अब slow लोडिंग ब्लॉगों की तुलना में अधिक तेज़ ब्लॉगों को रैंक करता है।

Images को optimise करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Optimizing Images

Images अधिक आकर्षक होती है Text की तुलना में, लेकिन उन्हें लोड करने में अधिक समय लगता है। यदि आप Image के आकार और गुणवत्ता के मामले में सावधान नहीं हैं, तो वे आपके ब्लॉग को धीमा कर सकते हैं।

आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आप उन Images का उपयोग करते हैं जो तेजी से लोड होने के लिए Optimised हैं।

Search Engine के लिए अपनी Images को Optimised करने के लिए आप एक और method का उपयोग कर सकते हैं, एक descriptive title और Alt tag का उपयोग करना। ये टैग Search Engine को यह समझने में मदद करते हैं कि आपकी Image किस बारे में है। वे उपयोगकर्ताओं को image error के साथ भी मदद करते हैं क्योंकि उनके स्क्रीन पर उनके लिए ये Image किस बारे में है लिखा हुआ आ जाता है ओर वो इसे पढ़ कर समझ सकते हैं।

जब आप Image अपलोड करते हैं तो WP आपको आसानी से Title और Alt टैग जोड़ने की अनुमति देता है।

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Optimising Images

यदि आप एक फोटोग्राफर हैं या अपने WP ब्लॉग पर बहुत सारे Images जोड़ते हैं, तो आपको एक गैलरी प्लगइन का उपयोग करने की आवश्यकता है।

मैं एनवीरा गैलरी का उपयोग करने की सलाह देता हूँ। मेरे गति परीक्षणों में, मैंने इसे सबसे तेज़ WP गैलरी प्लगइन पाया। यह पूरी तरह SEO optimised है।

ब्लॉग की Security and safety

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO Security and Safety

Google हर दिन लगभग 10,000 Websites को ब्लैक लिस्ट करता है। जब किसी Website/Blog को Google की ब्लैकलिस्ट में जोड़ा जाता है, तो इसका अर्थ है कि Google और अन्य Search Engine ने Website/Blog को unsafe ओर  unsecure के रूप में चिह्नित कर लिया है। जब किसी ब्लॉग को ब्लैकलिस्ट किया जाता है, तो वह किसी भी Search Result में बिल्कुल भी दिखाई नहीं देता है।

इसका मतलब है कि अच्छी रैंकिंग के लिए आपके WP ब्लॉग की security महत्वपूर्ण है।

अच्छी खबर यह है कि आपके WP ब्लॉग को सुरक्षित रखना उतना मुश्किल नहीं है

SSL/HTTPS का उपयोग करें

WordPress SEO Guide In Hindi Rank Math SEO SSL HTTP

SSL (सिक्योर सॉकेट्स लेयर) एक ऐसी तकनीक है जो उपयोगकर्ता के ब्राउज़र और वे जिस सर्वर से जुड़ रहे है, के बीच संबंध को encrypt करती है। यह आपके WP ब्लॉग पर एक अतिरिक्त सुरक्षा परत जोड़ती है।

SSL के साथ सुरक्षित Websites/ब्लॉगों को ब्राउज़र के एड्रेस बार में एक Green पैडलॉक चिन्ह द्वारा दर्शाया जाता है। यह आपके ब्लॉग को अधिक विश्वसनीय बनाता है, और यह आवश्यक है यदि आप WP के साथ एक ऑनलाइन स्टोर चला रहे हैं और संवेदनशील भुगतान जानकारी जैसे की credit card, debit card या internet banking आदि का उपयोग कर रहे हैं।

सभी अच्छी WP होस्टिंग कंपनियां मुफ्त में SSL प्रमाणपत्र प्रदान करती हैं।

More SEO Tools and Resources

एक बार जब आप WordPress SEO best practices को apply कर लेते हैं, तो आप अपने competitors से आगे बढ़ जाते हैं।

मैंने सर्वश्रेष्ठ WP SEO प्लगइन्स और टूल की एक सूची तैयार की है, जिनका उपयोग आपको अपने SEO को बढ़ावा देने के लिए करना चाहिए। यदि आप कुछ और उन्नत तकनीकों को आज़माने के लिए तैयार हैं, तो आप मेरे WP SEO लेखों के संग्रह को भी देख सकते हैं।

मुझे उम्मीद है कि “WordPress SEO Guide In Hindi” लेख से आपको यह जानने में मदद मिली कि कैसे आप अपने WP ब्लॉग को SEO के लिए ठीक से Optimised कर सकते हैं। आगे बढ़ें और इन WP SEO युक्तियों में से कम से कम कुछ को आज ही लागू करें, और आपको कुछ ही महीनों के भीतर अपने traffic में वृद्धि देखने को मिलेगी, जी हाँ, कुछ महीने तो लगेंगे, ये कोई ऐसा काम नहीं है की आज किया ओर कल रिज़ल्ट दिखाई दे जाये, तो बस धैर्य रखिये ओर आपको सही टाइम आने पर आपकी महनत का फल मिल ही जाएगा।

अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो कृपया मेरे YouTube चैनल को सब्सक्राइब करें। आप मुझे Twitter और Facebook पर भी follow कर सकते हैं।

2 thoughts on “Latest 2021 WordPress SEO Guide In Hindi (Step By Step)”

Leave a Comment