on page seo kaise kare 2021

On Page SEO Checklist 2021

ब्लॉगिंग ओर एफिलिएट मार्केटिंग से कुछ ब्लॉगर करोड़ों और बहुत सारे ब्लॉगर्स लाखों रुपए सालाना कमा रहे हैं लेकिन ऐसा करने के लिए केवल अच्छा Content लिखना ही काफी नहीं है इसके लिए लोगों का आपके ब्लॉग पर रेगुलर आना और आपके द्वारा लिखे गए आर्टिकल/ब्लॉग पोस्ट को पढ़ना भी अति आवश्यक है, और इस ट्रैफिक को आपके ब्लॉग पर लेकर आने में On page SEO आपकी हेल्प करता है। इस लेख में हम On Page SEO के बारे में जानेगे।

On Page SEO क्या है?

On Page SEO का अर्थ है, अपने ब्लॉग ओर अपने content को उन structures ओर guidelines के हिसाब से बनाना जो की किसी भी search engine को आपके ब्लॉग को खोजने, index करने में हेल्प करे, आपके ब्लॉग पोस्ट का content किस बारे में है, इस बात को समझने में हेल्प करे।

On Page SEO करके search results में top स्थान प्राप्त करने के लिए, यहाँ पर ओर भी कई On Page SEO factors हैं, जिस पर आपके ब्लॉग को खरा उतरना पड़ेगा। जैसे की आपके ब्लॉग की page load speed, सही keyword का सही जगह पर use इत्यादी।

अब इंटरनेट पर बहुत सारे सर्च इंजन है जैसे कि गूगल याहू बिंग, लेकिन उनमें से सबसे important गूगल है क्योंकि वह 80% से ज्यादा मार्केट पर कब्जा किए हुए हैं तो हमें ज्यादा ट्रैफिक प्राप्त करने के लिए अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल सर्च इंजन के गाइडलाइंस के हिसाब से ही ऑप्टिमाइज या अनुकूलित करना चाहिए।

On Page SEO कैसे किया जाता है?

On Page SEO करने के लिए आप इस 21 points की Checklist का उपयोग करें।

On Page Optimisation Checklist थोड़ी लम्बी है लेकिन कठिन नहीं।

  1. Content Is King: अपने कांटेंट की क्वालिटी को जितना हो सके उतना अच्छा ओर unique बनाये, कभी भी copy paste न करें। हाँ, ये भी सही है, की सत्य एक ही है, लेकिन आपको उसे अपने शब्दों में लिखना चाहिए। इसके लिए आप किसी भी टॉपिक पर लिखने से पहले उससे related top 5 Articles ज़रूर पढ़ लें, ओर उन आर्टिकल्ज़ के Keypoints को note down करें, फिर अपने शब्दों में अपनी extra ओर updated knowledge को इसमें add करके इसे लीखें।
  2. Content की length: अगर सच बताऊँ तो, content की length का कोई भी fix rule नहीं है। आप उतना ही लीखें जितने में आप आपनी बात को अपनी audience के सामने ठीक से रख सकें।

Pro Tip: Top 5 articles की length का average निकल के आप किसी specific topic में कितने word लिखने चाहिए इस बात का पता आसानी से लगा सकते हो।

  1. Keyword Stuffing: जब आप अपने कांटेंट में एक लिमिट से ज़्यादा बार keyword का उपयोग करते हो तो इसे Keyword Stuffing कहते हैं, 5-10 साल पहले bloggers इस technique का उपयोग करके गूगल सर्च में top rank हासिल कर लेते थे। लेकिन अब गूगल बहुत ही स्मार्ट हो गया है, ओर Keyword Stuffing करने वालों को black list करके panelty देता है। backlist हुआ ब्लॉग कभी भी सर्च results में नहीं आता।

Pro Tip: 100 से ज़्यादा बार Keyword का उपयोग न करें। लेकिन हमें ये समझना भी बहुत ही ज़रूरी है की Keywords का उपयोग कहाँ कहाँ करना चाहिए, आइए जानते हैं।

Related Article: क्या आप SEO के लिए सबसे अच्छा कीवर्ड रिसर्च टूल खोज रहे हैं?

  1. Title Optimisation: Title को अनुकूलित करना सबसे ज़्यादा जरूरी है। Title ही है जो search engines को ये signal देता है की आपका content किस बारे में है। तो अपने Title में Keyword का होना बहुत ही  ज़्यादा जरूरी है।
  2. H1 Tag Optimisation: अपने ब्लॉग पोस्ट में H1 Tag का उपयोग केवल 1 बार ही करें, ओर अपने Keyword या फिर इसके synonyms को H1 Tag में ज़रूर शामिल करें।

Related Article: Title Vs H1 Tag हिंदी में।

  1. First Paragraph Optimisation: सबसे पहले Paragraph में एक बार अपना Keyword ज़रूर शामिल करें, हो सके तो पहले 100 words में ही Keyword को  शामिल करें। लेकिन, ये बिलकुल Natural होना चाहिए।
  2. Headings Structure Optimisation: अपनी Headings को एक सही structure के हिसाब से ही बनाए, सबसे पहले H1 फिर H2 → H3 → H4 → H5 ओर सबसे last में H6
On Page Seo Kaise Kare 2021 Difference Between A Page Title And H1 Tag
  1. Use Synonyms: अपने ब्लॉग पोस्ट में कुछ जगह पर keyword के समानार्थक शब्दों का उपयोग करें।
  2. Meta Description Optimisation: अपने ब्लॉग पोस्ट के Meta Description में Keyword का उपयोग ज़रूर करें।
  3. Permalink Optimisation: Permalink में Keyword को ज़रूर add करें।
  4. Linking Optimisation: Linking 2 प्रकार की होती है, ओर इसको करने से Google आपके ब्लॉग को ज़्यादा value देता है।
  5. Internal Link Optimisation: अपने ब्लॉग पोस्ट में internal linking करके अपने अन्य ब्लॉग पोस्ट से जोड़ें। 
  6. External Link Optimisation: अपने ब्लॉग पोस्ट में External linking करके किसी दूसरे ब्लॉग पर लिखे गए article से जोड़े, जोकी आपके audience के लिए फ़ायदेमंद हो। 
  7. Use Responsive Theme: इसी थीम का उपयोग करें जो responsive हो। जैसे की मैं इस ब्लॉग पर GeneratePress Theme का उपयोग कर रहा हूँ। Responsive का मतलब है आपका ब्लॉग user के device के हिसाब से content को ढाल लेगा।
  8. Use Light Theme: आपकी थीम ऐसी हो जो सर्वर पर ज़्यादा भर न डाले, GeneratePress Theme इस मामले में best है।
  1. Image Optimisation: अपने ब्लॉग पोस्ट में सभी images को optimise करें। Images को optimise करने के लिए सभी images पर Alt Tag लगाएँ, Images को upload करने से पहले compress करें। सभी Images को properly resize करें।

Pro Tip: आप Images को Optimise करने के लिए Best Plugins का उपयोग कर सकते हैं।

  1. Update Old Articles: पुराने articles को regularly update करें।
  1. Use Videos: अपने ब्लॉग पोस्ट में Video को insert करें। अब चाहे वो video आपकी हो या किसी ओर की अगर वो आपके कांटेंट में value add करती है तो उसे ज़रूर add करें।
  2. Use NoFollow: Untrusted sites के लिए Nofollow Links का उपयोग करें।
  3. Regularly Perform Maintenance Tasks: अपने ब्लॉग पर Regularly Maintenance Tasks perform करते रहें।
  4. Submit To Google: ब्लॉग पोस्ट लिखने के बाद, पोस्ट का URL गूगल सर्च कान्सोल में जाकर submit करें

Conclusion: आपने इस लेख में “On Page Seo Kaise Kare” सिख चुके हो, अब इन Techniques को अपने ब्लॉग में लागू करें।

नयी – नयी चीज़ों के बारे में जानने के लिए आप मुझे FacebookTwitter ओर Youtube पर भी follow कर सकते है। अगर आपको ये लेख valuable लगा तो, इसे अपने चहिते दोस्तों के साथ अभी share करें।

Leave a Comment