10 Minute me – what is DNS server and how it works in hindi

डोमेन नाम प्रणाली क्या है? Domain Name Registration Process

पिछले 50 वर्षों में कुछ चीज़ों ने दुनिया को पूरी तरह से बदल दिया है, ओर उन मे से एक चीज़ का नाम है Internet। जी हाँ, आज हम सोच भी नहीं सकते की Internet के बिना ज़िंदगी कैसी होगी। लेकिन क्या आपने कभी सोच है की ये काम कैसे करता है। वैसे तो Internet को काम काम करने के लिए हज़ारों चीज़ें चाहिए, लेकिन आज हम केवल एक ही चीज़ के बारे में बात करेंगे, ओर उसका नाम है डोमेन। आख़िर Kya Hai Domain Name? ऐसे ही बहुत सारे सवालों का जवाब मैं आपको इस “What Is DNS Server And How It Works In Hindi” लेख में दूँगा।

डोमेन नाम क्या है ? (What Is Domain Name)

जैसे अभी भारत में हर एक नागरिक की पहचान को ओरों से अलग बनाने के लिए दो चीजों का उपयोग किया जाता है (नाम : आधार नम्बर)।

वैसे ही इंटर्नेट की दुनिया में भी किसी भी एक वेबसाइट की पहचान को दूसरी वेबसाइटों की पहचान से अलग बनाने के लिए दो प्रकार के नामों का उपयोग किया जाता है, इनको बोलते हैं (डोमेन नाम : IP address)

डोमेन नाम को आप एक वेबसाइट का ऐसा नाम मान सकते हो जो की याद रखना भी बहुत आसान है ओर ये इंसान के नाम के जैसा होता है।

जबकि, IP ऐड्रेस को आप एक वेबसाइट का ऐसा नाम मान सकते हो जो की याद रखना बहुत मुसकिल है ओर ये इंसान के आधार नम्बर के जैसा होता है, जिसमें संख्या ओर शब्दों की एक लम्बी शरंखला होती है।

डोमेन नाम = वेबसाइट का नाम

For Example:

(www.bloguruji.com : 103.24.135.22) www.bloguruji.com मेरी वेबसाइट का डोमेन नाम है ओर 103.24.135.22 मेरी वेबसाइट का IP Address.

तो अब आप समझ चुके हो, की Domain Name Kya Hota Hai.

(DNS) Domain Name System Kya Hai? –

ये Internet की Phonebook की tarah kam करता है। जब भी कोई यूज़र अपने ब्राउज़र में किसी website का डोमेन नाम type करता है, जैसे की www.bloguruji.com तो अब DNS की ज़िम्मेदारी ओर काम है, की वो वो इस domain name के लिए सही IP address खोज कर लाए। ठीक है, लेकिन ये काम कैसे करता है? अब ज़रूरत पड़ती है DNS सर्वर की।

DNS = Internet की Phonebook

Domain Name Server Kya Hai

जो सर्वर DNS query request को उत्तर देता है, उसे DNS Server कहते हैं।

Domain Name Server Kya Karta Hai

  • Domain name को आपके IP से map करता है।
  • DNS आपके यूज़र को आपकी साइट से जोड़ता है।

Domain Name Server Kya Nahi Hai (क्योंकि बहुत से लोग इस बारे में confuse हैं)

  • ये आपकी web files को host नहीं करता।
  • ये आपको कोई अतिरिक्त access नहीं देता, जैसे की hPanel या cPanel, जिससे आप अपने वेब डेटा को access करते हैं।

DNS सर्वर DNS क्वेरी को कैसे हल करते हैं यह 4 steps में होता है। 

What Is DNS Server And How It Works In Hindi
  1. सबसे पहले DNS client (Browser) से DNS query request DNS (Resolver) को जाती है।
  • Resolver अब 3 DNS servers को बारी-बारी से request करता है।
  • सबसे पहले Root nameserver को रिक्वेस्ट भेजी जाती है, 
  • जवाब में Root nameserver अब TLD DNS server (जैसे की .com ओर .in) का ऐड्रेस Resolver को देता है 
  • अब Resolver अगली query TLD server को भेजता है
  • TLD Server डोमेन के authoritative nameserver का IP ऐड्रेस Resolver को भेज देता है.
  • अब अंतिम query  Authoritative Nameserver को भेजी जाती है
  • Authoritative nameserver, Origin server IP address को  resolver के पास भेजता है
  1. Finally, Resolver यूज़र को Origin server IP address देता है
  2. इस Origin server IP address का उपयोग करके यूज़र का Browser Origin server को data request भेजता है
  3. Origin server, requested data को user browser में भेज देता है, ओर यूज़र वेबसाइट को देख पता है।

डोमेन रेकोर्ड कहाँ पर स्टोर किया जाता है?

एक खास सर्वर जिसे Authoritative Nameserver बोलते हैं, एक डोमेन नाम के DNS records (A, CNAME, PTR, आदि) को स्टोर करके रखता है।

Domain Names को कौन प्रबंधित करता है?

ICANN एक संगठन है, जो Domain Names को प्रबंधित करता है। ICANN ही इस बात का निर्णय करता है की कौन कौन से Domain, किस-किस के लिए उपलब्ध रहेंगे। उनके पास Domain Names का एक बहुत बड़ा Database है।

डोमेन के प्रकार (Types Of Domain)

डोमेन को 5 मुख्य भागों में तोड़ा गया है:

1. TLD – टोप लेवल डोमेन, सबसे ज़ायद उपयोग किए जाने वाले टोप लेवल डोमेन:

Domainअधिक जानकारी
COMCommercial Internet Site
ORGOrganization Site
EDUEducational Site
NETInternet Administrative Site

NEW TLD – नए टोप लेवल डोमेन, जो अभी अभी मार्केट में आए हैं:

Domainअधिक जानकारी
TECHटेक्निकल रिव्यू वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
LIVEलाइव स्ट्रीम वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
DIGITALडिजिटल मार्केटिंग वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
MEपर्सनल वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
HELPकस्टमर केर वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
FUNकॉमडी/मनोरंजन वेबसाइट के लिए अच्छा रहेगा
PRESSन्यूज़ वेबसाइट के अच्छा रहेगा

2. ccTLD (Country Code) – भारत के पड़ोसी देशों के लिए उनके नाम के हिसाब से टोप लेवल डोमेन:

Domainअधिक जानकारी
NPनेपाल
BTभूटान
MMम्यांमार
LKश्री लंका
AFअफगानिस्तान
CNचीन
BDबांग्लादेश
PKपाकिस्तान

ccTLD (Country Code) – कुछ मुख्य देशों के लिए उनके नाम के हिसाब से टोप लेवल डोमेन:

Domainअधिक जानकारी
AUऑस्ट्रेलिया
USयू॰एस॰ए॰
CAकनाडा
JPजापान
NZन्यू जीलैंड
UKइंग्लंड

3. Generic TLD – ये भी TLD की तरह ही है, लेकिन ये ज़्यादा Generic है

Domainअधिक जानकारी
activeGeneric
blogGeneric
globalGeneric
menGeneric

4. Second-Level-Domains

ये डोमेन की में TLD के नीचे आते हैं, लेकिन इनकी भी वैल्यू TLD के बराबर ही होती है। इनको ज़्यादातर किसी देश के TLD के साथ उपयोग किया जाता है। जैसे की:

Domainअधिक जानकारी
.gov.inभारत सरकार के लिए
.edu.inभारत में एजुकेशन के लिए
.co.inभारत में commercial use के लिए

5. Third Level Domains

इस प्रकार के डोमेन नाम एक पूर्ण डोमेन नाम का अंश मात्र होते हैं। इनकी हेल्प से आप अपनी वेबसाइट के additional sections बना सकते हैं। अब ये पूरी तरह से ऑप्शनल है, जबकि कुछ साल पहले ये compulsory होता था।

Domainअधिक जानकारी
www.bloguruji.comwww 3rd LD है और optional है
blog.bloguruji.comblog 3rd LD है और optional है
learn.bloguruji.comlearn 3rd LD है और optional है

डोमेन नाम खरीदने के लाभ

  • आप अपने व्यवसाय की एक अलग Online पहचान बना सकते हैं
  • ज्यादा Clients से जुड़ सकते हैं
  • आपने Business को एक Brand के रूप में स्थापित कर सकते हैं

Domain Registration करते समय कुछ बातों को ध्यान में रखना जरुरी है:

  • Domain Name छोटा हो
  • याद रखना आसान हो
  • केवल Alphabets से बना हो, कोई भी संख्या (0-9) इसका भाग न हो
  • Unique हो
  • Confusing न हो
  • आपकी वेबसाइट के बारे में साफ साफ दर्शाता हो

Domain Name Kaise Register Kare:

डोमेन नाम रेजिस्ट्रेशन(Complete Process of Domain Registration from Hostinger)

Domain Name Registration Process के 10 Steps को फॉलो करके आप Domain Name Registration कर सकते हैं।

  1. Domain Registrar (Hostinger)की वेबसाइट पर जाएँ
Hostinger ki Website par jayen
  1. Domain Registrar की वेबसाइट पर अकाउंट बनाकर लॉगिन करें 
Login Karen
  1. डोमेन नाम सर्च करें 
Domain Name Search Karen
  1. Add to cart करें 
Add to Cart karen
  1. Select करें की कितने वर्षों के लिए डोमेन नाम खरीदना है
year select karen
  1. Checkout Now पर क्लिक करें
Checkout Now
  1. Payment Method Select करें
Choose a payment method ka chunav karen
  1. अपनी जानकारी भरें, Continue with payment पर क्लिक करें 
apni details bharen
  1. अपने बैंक खाते की Details भरें 
  1. “Pay now” पर क्लिक करें

Domain Name Kaha Se Kharide

डोमेन नाम सिस्टम Domain Name Registration Process, Domain Name Kaha Se Kharide What Is DNS Server And How It Works In Hindi

ऐसी बहुत सारी Companies हैं जो डोमेन नाम बेचती हैं , उनमे से कुछ के नाम मैं लिस्ट कर रहा हूँ

Honest Hostinger Review 2021 हिंदी में पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।

Domain Name Kaise Banaye

Domain Name Generators की सूची है, आप इनका उपयोग करके बड़ी आसानी से एक अच्छा Domain Name Bana सकते हैं:

Take Aways

  • डोमेन नाम = वेबसाइट का नाम
  • DNS = Internet की Phonebook
  • DNS सर्वर DNS क्वेरी को 4 steps में हल करते हैं।
  • Domain Name Registration Process में 10 Steps हैं।
  • Domain Names को ICANN प्रबंधित करता है।

अपना पहला ब्लॉग कैसे बनाए जो जल्दी से पैसा कमा सके, जानने के लिए मेरा ये लेख पढ़ें “ब्लॉग क्या है और कैसे बनाये?

How To Domain Name Registration In Hindi?

डोमेन नाम सिस्टम Domain Name Registration Process

डोमेन नाम रेजिस्ट्रेशन Domain Name Kaise Register Kare
?

Total Time: 10 minutes

Domain Registrar की वेबसाइट पर जाएँ

Hostinger की website पर जाएँ

Domain Registrar की वेबसाइट पर अकाउंट बनाकर लॉगिन करें 

अब account बनाकर login करें

Domain Name Search karen

Search Bar में वो नाम enter करें जो आप ख़रीदना चाहते हैं

Add to cart करें 

अब इन नाम को अपनी cart में add करें, याद रखें अगर आपने login नहीं किया तो आपके सामने cart का option नहीं आएगा

Select करें की कितने वर्षों के लिए डोमेन नाम खरीदना है

year bar में वो नम्बर enter करें जितने साल के लिए आप ये domain kharidna चाहते हो

Checkout Now पर क्लिक करें

अब Checkout Now पर क्लिक करें

Payment Method Select करें

आपके पास कई option हैं, उनमे से payment करने के लिए एक को select करें

अपनी जानकारी भरें, Continue with payment पर क्लिक करें 

अपनी details fill करें, नाम, ऐड्रेस,PAN कार्ड नम्बर ओर continue with payment पर click करें

अपने बैंक खाते की Details भरें 

अपने बैंक खाते की Details भरें 

“Pay now” पर क्लिक करें

ये अंतिम Step है, “Pay now” पर क्लिक करें ओर Domain Registration Process complete हो चुकी है।

1 thought on “10 Minute me – what is DNS server and how it works in hindi”

Leave a Comment